Connect with us

राष्ट्रीय

कोरोना वारियर्स के बच्चों के लिए MBBS-BDS करना होगा आसान, मोदी सरकार ने किया ये ऐलान

Published

on

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के दौरान अपनी जान की परवाह किए बिना सबसे आगे लड़ने वाले कोरोना वारियर्स (Corona Warriors) के बच्चों के बारे में सरकार ने सोचा है. MBBS और BDS 2020-21 के सत्र सहित अन्या मेडिकल पाठ्यक्रमों में एडमिशन के लिए कोरोना वारियर्स के बच्चों को आरक्षण दिया जाएगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने इस आरक्षण पॉलिसी को मंजूरी दे दी है.

Corona Warriors का सम्मान
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा है, ‘यह उन सभी Corona Warriors के सम्मान के लिए है जिन्होंने निस्वार्थ भाव से सेवा की है.’ उन्होंने कहा है, कोरोना काल में बड़ी संख्या में लोगों ने निस्वार्थ भाव से आगे आकर जरूरतमंदों मदद की. इन्होंने अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना योद्धा की भूमिका निभाई. कई कोरोना वॉरियर्स ने अपना बलिदान तक दे दिया.

यह भी पढ़ें: ZEE NEWS पर डॉ. हर्षवर्धन ने बताया- कब तक तैयार हो जाएगी कोरोना वैक्सीन

उन्होंने ट्वीट किया है, ‘#CoronaWarriors के योगदान को इतिहास कभी भुला नहीं पाएगा. इनके योगदान को नमन करते हुए @MoHFW_INDIA ने Central Pool की 5 MBBS seats Corona Warriors के लिए आरक्षित करने का निर्णय किया है. सरकार का यह कदम कोरोना योद्धाओं के प्रति मोदी सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है.’

 

‘मोदी सरकार कोरोना वारियर्स के प्रति प्रबद्ध’
बता दें मोदी सरकार लगातार कोरोना वारियर्स के प्रति प्रबद्धता दर्शाती आ रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्यवं कोरोना योद्धाओं का सम्मान करने की अपील कर चुके हैं. केंद्र सरकार ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले कोरोना योद्धाओं को 50 लाख रुपए की बीमा राशि भी दे रही है. इसके अलावा कुछ राज्यों ने अलग से बीमा भी करवाया है.

ये संस्थान पहले से ही कर रहे मदद
वहीं कई शिक्षण संस्थान पहले ही COVID वारियर्स के बच्चों के लिए छूट की पेशकश कर चुके हैं. इनमें चंडीगढ़ विश्वविद्यालय और LPU, फगवाड़ा का नाम भी शामिल है. चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में 10 प्रतिशत आरक्षण तो LPU, फगवाड़ा मुफ्त शिक्षा दे रहा है.

LIVE TV



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

राष्ट्रीय

‘कोविन’ पर 8 दिसंबर तक लोड होंगे सबसे पहले कोरोना वैक्‍सीन ‘पाने’ वाले हेल्‍थ वर्कर्स के आंकड़े, यूं चलेगी पूरी प्रक्रिया

Published

on

By

'कोविन' पर 8 दिसंबर तक लोड होंगे सबसे पहले कोरोना वैक्‍सीन 'पाने' वाले हेल्‍थ वर्कर्स के आंकड़े, यूं चलेगी पूरी प्रक्रिया

पीएम मोदी ने कहा है, अगले कुछ हफ्तों में कोरोना वैक्सीन भारत में आ जाएगी (प्रतीकात्‍मक फोटो)

नई दिल्ली:

Covid-19 Vaccine: केंद्र सरकार (Central Government) की ओर से शुक्रवार को एक सर्वदलीय बैठक (All Patty Meet) में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का खाका देश के सामने रखा गया. इस संबंध में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव की ओर से एक प्रजेंटेशन दिया गया. NDTV को इसकी एक्सक्लूसिव जानकारी मिली है. हर भारतीय, जिसे वैक्सीन देने की जरूरत है, उसे वैक्सीन दी जाएगी. जानकारी के मुताबिक, भारत में वैक्सीन आने पर सबसे पहले एक करोड़ हेल्थ वर्कर्स को दी जाएगी, इनमें कोरोना मरीजों के इलाज में लगे सरकारी और निजी अस्पतालों के डॉक्टर, नर्स आदि शामिल हैं. इसके बाद दो करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स का नंबर आएगा, इनमें सुरक्षा बल, पुलिस, होम गार्ड, म्यूनिसिपल वर्कर शामिल होंगे.

यह भी पढ़ें

मॉडर्ना की COVID-19 वैक्सीन 3 महीने तक शरीर में एंटीबॉडी को बने रहने में करती है मदद : रिपोर्ट

इनके बाद नंबर आएगा प्राथमिकता वाले उम्र समूह का, जिसमें 27 करोड़ भारतीय होंगे, इसमें 50 वर्ष से ऊपर के लोग होंगे. 50 वर्ष कम उम्र के ऐसे लोग, जिन्हें पहले से कोई बीमारी हो, उन्‍हें वैक्‍सीन देने के लिए ‘कोविन’ नाम का डिजिटल प्लेटफार्म बनाया गया है. हेल्‍थ केयर वर्कर्स के आंकड़े जुटाने का काम चल रहा है. 8 दिसंबर तक इनके आंकड़े ‘कोविन’ पर लोड कर दिए जाएंगे. वैक्सीन के लिए सीरिंज, सुई आदि जुटाने का काम चल रहा है. टीका लगाने वालों को ट्रेनिंग का मटेरियल तैयार हो रहा है.देश में कोरोना वैक्सीन का काम पांच सिद्धातों पर आधारित होगा. तकनीक के आधार पर लागू करना, एक साल या अधिक समय की तैयारी, मौजूदा स्वास्थ्य सेवाओं से कोई समझौता नहीं, चुनावों वयूनिवर्सल इम्यूनाइजेशन कार्यक्रमों के अनुभव का लाभ लिया जाए, लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करना और वैज्ञानिक और अन्य नियामकों पर कोई समझौता नहीं. 

कोरोना वैक्सीन को लेकर सर्वदलीय बैठक में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि अगले कुछ हफ्तों में कोरोना वैक्सीन भारत में आ जाएगी. उन्होंने कहा कि भारत में आठ वैक्सीन पर काम चल रहा है, इनमें से तीन भारत की अपनी हैं. वैज्ञानिकों की मंजूरी मिलते ही वैक्सीन देने का काम शुरू हो जाएगा. पीएम ने बताया कि राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम चल रहा है.कोल्ड चेन व अन्य उपकरणों पर काम जारी है. केंद्र और राज्य सरकार के अधिकारियों को मिला कर नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप बनाया गया. जरूरतों के हिसाब से यह एक्सपर्ट ग्रुप फैसला करेगा.

Newsbeep

कुछ हफ्तों में कोरोना वैक्सीन तैयार कर ली जाएगी : PM मोदी

Source link

Continue Reading

राष्ट्रीय

1965 और 1971 की जंग लड़ी, ऑपरेशन ब्लू स्टार में हुए शामिल अब किसानों का साथ देने दिल्ली पहुंचे केरन सिंह

Published

on

By

केरन सिंह (Keran Singh) ने हिदुस्तानी फौज का हिस्सा रहते हुए साल 1965 और 1971 की जंग लड़ी. इसके बाद ऑपरेशन ब्लू स्टार में शामिल हुए.

Source link

Continue Reading

राष्ट्रीय

कश्मीर में कई स्थानों पर शून्य से नीचे तापमान, पहलगाम रहा सबसे सर्द स्थान

Published

on

By

कश्मीर में कई स्थानों पर शून्य से नीचे तापमान, पहलगाम रहा सबसे सर्द स्थान

प्रतीकात्मक तस्वीर

श्रीनगर:

कश्मीर में विभिन्न स्थानों पर तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया .घाटी में पहलगाम सबसे सर्द स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 3.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया . अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को इसकी जानकारी दी . अधिकारियों ने बताया कि कोकेरनाग को छोड़कर कश्मीर के सभी मौसम केंद्रों ने कल रात का तापमान शून्य के नीचे दर्ज किया है . शोपियां जिले में तापमान शून्य के नीचे 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे 2.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

यह भी पढ़ें

अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर में पिछले शुक्रवार को न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था जो बृहस्पतिवार को शून्य के नीचे 1.4 ​डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया . मौसम विभाग के अनुसार काजीगुंड में तापमान शून्य के नीचे 0.8​ डिग्री सेल्सियस, कुपवाड़ा में शून्य के नीचे 1.8 डिग्री जबकि कोकेरनाग में 0.4 ​डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया . विभाग ने घाटी में छिटपुट स्थानों पर हल्की बारिश अथवा हिमपात का अनुमान लगाया है . 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Newsbeep

Source link

Continue Reading

Trending