Connect with us

राष्ट्रीय

प्रदेश में जहरीली शराब का धंधा दुगनी रफ्तार से चल रहा है: अखिलेश यादव

Published

on

प्रदेश में जहरीली शराब का धंधा दुगनी रफ्तार से चल रहा है: अखिलेश यादव

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में हाल में कथित जहरीली शराब से हुई मौतों के मद्देनजर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को आरोप लगाया कि भाजपा सरकार को जनसामान्य के स्वास्थ्य और जीवन की कोई चिंता नहीं है तथा प्रदेश में अवैध शराब का कारोबार सरकार के संरक्षण में चल रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के ‘‘बड़बोलेपन के बावजूद जहरीली शराब का धंधा दुगनी रफ्तार से चल रहा है और अब तक दर्जनों लोग जहरीली शराब पीकर अपनी जान गंवा बैठे हैं. शराब माफियाओं के हौंसले इतने बढ़े हुए हैं कि वे सरकारी कायदे कानूनों को ठेंगा दिखाते हुए तस्करी और अवैध शराब की बिक्री खुलेआम” कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें

सपा कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में अखिलेश ने कहा, ‘‘सच तो यह है कि प्रदेश में पुलिस और आबकारी विभाग की जानकारी में ही अवैध ढंग से शराब की तस्करी और जहरीली शराब बनाने और बेचने का काम हो रहा है. फूलपुर कोतवाली क्षेत्र में देशी शराब के ठेके से शराब ले जाकर पीने से इमलिया गांव के सात लोगों की मौत हो गई और कई ग्रामीणों की हालत गम्भीर हैं.

बाराबंकी के कोठी थाना क्षेत्र में भाजपा नेता ने उधार शराब न देने पर सेल्समैन की पिटाई कर दी. कई ठेके भाजपा नेताओं ने ले रखे हैं. वे भी जल्दी माल कमाने के फेर में दिखाई देते हैं. बाराबंकी में 12 लोगों की मौत हुई है.”

Newsbeep

बयान में कहा गया कि जहरीली शराब पीकर हापुड़ कोतवाली क्षेत्र में 12 लोगों की मौत हुई. सहारनपुर में 64 मौतें हुई, जबकि फिरोजाबाद में दो लोग मारे गए. प्रयागराज के फूलपुर क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत हो गई. इटावा, रामपुर और जालौन में भी मौतें हुई है. उन्होंने कहा कि जहरीली शराब पीने से मौत होने का सिलसिला बदस्तूर जारी है. पहले भी कई दर्दनाक घटनाएं हो चुकी हैं, परन्तु कोई इनसे सबक नहीं लेता है.

यादव ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार की संवेदनहीनता की हद है कि नकली शराब का धंधा करने वालों पर नकेल कसने में वह अब तक गम्भीर नहीं हुई है. उन्होंने कहा कि इस सरकार ने नकली शराब के कारोबारियों को खत्म करने की दिशा में ठोस कदम नहीं उठाए हैं और सरकार को इसमें विभागीय संलिप्तता की भी जांच कर कठोर कार्रवाई करनी चाहिए.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Source link

राष्ट्रीय

कारोबारियों को बैंक खोलने की अनुमति देने की सिफारिश पर भड़के राहुल गांधी, कहा- ‘पहले क्रोनोलॉजी समझिए…’

Published

on

By

कारोबारियों को बैंक खोलने की अनुमति देने की सिफारिश पर भड़के राहुल गांधी, कहा- 'पहले क्रोनोलॉजी समझिए...'

RBI की एक टीम की सिफारिश पर राहुल गांधी ने जताया विरोध. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मंगलवार को बैंकिंग सेक्टर में कारोबारियों के दखल (NBFCs in Banking Sector) की सिफारिश को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने पहले कुछ बड़ी कंपनियों का कर्ज माफ किया और अब उन्हें ही बैंक खोलने की अनुमति दे रही है, जिसके चलते लोगों की बचत सीधे इनके बैंकों में जाएगी.

यह भी पढ़ें

राहुल ने लिखा, ‘क्रोनेलॉजी समझिए, पहले कुछ बड़ी कंपनियों का कर्ज माफ किया, फिर इनको टैक्स में बड़ी छूट दी. अब इन कंपनियों की ओर से खोले गए बैंकों में लोगों की बचत डाली जाएगी. सूट बूट की सरकार.’

85amcnug

उनके इस ट्वीट पर शशि थरूर ने भी प्रतिक्रिया दी. थरूर ने कहा कि यह एक अहम बिंदु है, कांग्रेस को आर्थिक सुधारवादी बने रहना चाहिए, वहीं विकासवादी दिशा के रास्ते पर भी बने रहना चाहिए (क्योंकि आखिरकार ग्रोथ से ही सरकार को अपने सामाजिक न्याय के कार्यक्रमों में सहायता के लिए राजस्व मिलता है), क्रोनी कैपिटलिज्म का विरोध होना ही चाहिए.

बता दें कि पिछले हफ्ते रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के बनाए गए एक एक आंतरिक कार्य समूह (आईडब्ल्यूजी) ने कई सुझाव दिए थे. इन सुझावों में यह सिफारिश भी शामिल है कि बैंकिंग विनियमन अधिनियम में आवश्यक संशोधन करके बड़े कॉरपोरेट घरानों को बैंक शुरू करने का लाइसेंस दिया जा सकता है.

इस सिफारिश का विरोध रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और पूर्व डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने भी किया है. इन दोनों पूर्व अधिकारियों ने साथ में एक लेख लिखा है, जिसे लिंक्डइन पर पोस्ट किया गया था. इस लेख में इन्होंने कहा है कि कॉरपोरेट घरानों को बैंक स्थापित करने की मंजूरी देने की सिफारिश आज के हालात में चौंकाने वाली है. दोनों का मानना है कि बैंकिंग क्षेत्र में कारोबारी घरानों की संलिप्तता के बारे में अभी आजमायी गयी सीमाओं पर टिके रहना अधिक महत्वपूर्ण है.

(भाषा से इनपुट के साथ)

Newsbeep

Video: कोविड के दौर में परेशान हैं मोबाइल रिटेलर्स, पीएम से मदद की लगायी गुहार

Source link

Continue Reading

राष्ट्रीय

घर का प्‍लान बनाने से पहले देख लें लिस्‍ट, रेलवे ने कैंसिल की ये ट्रेनें

Published

on

By

 उत्तर पश्चिम रेलवे ने संरक्षा व तकनीकी कारणों के चलते 12 त्योहार स्पेशल ट्रेनों को रद्द किया है. 

Source link

Continue Reading

राष्ट्रीय

Coronavirus update:दिल्ली में लगातार चौथे दिन कोविड-19 से 100 से ज्यादा लोगों की मौत

Published

on

By

Coronavirus update:दिल्ली में लगातार चौथे दिन कोविड-19 से 100 से ज्यादा लोगों की मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस के मामले 91 लाख के पार हो चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों में 44,059 नए मामले सामने आए हैं. जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 91,39,865  हो चुकी है. इधर राजधानी दिल्ली में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. दिल्ली में लगातार चौथे दिन कोविड-19 से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है. दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 121 लोगों की मौत हुई है जबकि 4454 नए मामले सामने आए हैं. 

यह भी पढ़ें

Newsbeep

राहत की बात है कि पिछले 24 घंटे में 7216 मरीज ठीक हुए हैं. दिल्ली में अभी रिकवरी रेट 91.42% है वहीं एक्टिव  मरीज 6.98% हैं. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट- 11.94% पर पहुंच गया है. देश की राजधानी दिल्ली में अबतक 5,34,317 लोग कोविड-19 से पीड़ित हो चुके हैं. सरकार की तरफ से पिछले 24 घंटों में 37,307 टेस्ट हुए हैं. दिल्ली में अबतक 58,53,278 टेस्ट हो चुके हैं. 

Source link

Continue Reading

Trending