Connect with us

ताज़ा खबर

विवादों से घिरे रहने के बावजूद हमेशा राजनीतिक पार्टियों की जरूरत बने रहे अमर सिंह

Published

on

विवादों से घिरे रहने के बावजूद हमेशा राजनीतिक पार्टियों की जरूरत बने रहे अमर सिंह

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह का निधन हो गया (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता और राज्यसभा सांसद अमर सिंह (Amar Singh) का आज निधन हो गया. वे 64 साल के थे. लंबे समय से बीमार चल रहे अमर सिंह का सिंगापुर में इलाज चल रहा था. इसी साल मार्च महीने में उन्होंने अपनी किडनी से जुड़ी बीमारी की वजह से सिंगापुर के एक बड़े अस्पताल में सर्जरी करवाई थी. अमर सिंह को समाजवादी पार्टी के बड़े नेता के तौर पर पहचाना जाता रहा. अमर सिंह हमेशा खास तौर पर यूपी की राजनीति के केंद्र में बने रहे. वे राजनीतिक विवादों के कारण भी हमेशा चर्चा में रहे.  

यह भी पढ़ें

अमर सिंह का व्‍यक्तित्‍व ही ऐसा था कि वे राजनीति में भले ही विवादों से घिरे रहे हों लेकिन उनकी अपरिहार्यता हमेशा बनी रही. अमर सिंह के विरोधी उन्‍हें बेहद महत्‍वाकांक्षी और साजिश रचने वाला मानते थे तो उनके समर्थक उन्‍हें फंड रेजर और क्रा‍इसिस मैनेजमेंट का माहिर बताते थे. कारोबारी अमर सिंह के बारे में कहा जाता है कि उनके संबंध सभी पार्टियों में थे जिसके कारण वे ‘संकटमोचक’ के तौर पर उभरते रहे.

राजपूत परिवार में जन्‍मे अमर सिंह को उनकी खास सहयोगी जयाप्रदा के साथ 2010 में समाजवादी पार्टी से निकाल दिया गया था. सपा से निकाले जाने के बाद अमर सिंह ने लोकसभा चुनाव के दौरान राष्‍ट्रीय लोकदल से हाथ मिला लिया और फतेहपुर सीकरी से चुनाव भी लड़ा लेकिन हार गए. सपा से बाहर रहने के बाद भी न तो पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह अमर सिंह को भूल पाए और न अमर सिंह, सपा सुप्रीमो को. सन 2016 में यूपी में विधानसभा चुनाव के पहले वे पार्टी में वापसी करने में कामयाब रहे थे. हालांकि मुलायम के बेटे अखिलेश के अमर सिंह को नापसंद करने से यह संबंध आगे नहीं चल सके. फिलहाल अमर सिंह की बीजेपी से करीबी बताई जा रही थी.  

अमर सिंह के निधन पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जताया दुख, बोले- सभी दलों में थी उनकी दोस्ती

अमर सिंह को मुलायम सिंह का काफी विश्‍वास हासिल था. सन 2008 में जब यूपीए सरकार के अमेरिका के साथ प्रस्तावित परमाणु समझौते के कारण भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने अपना समर्थन वापस ले लिया था. इससे सरकार अल्पमत में आ गई थी. कहा जाता है कि उस समय अमर सिंह ने ही मुलायम सिंह यादव को यूपीए सरकार को समर्थन देने के लिए राजी किया था. समाजवादी पार्टी में कॉर्पोरेट कल्‍चर लाने वाले भी अमर सिंह ही थे. हालांकि इसके लिए वे विरोधियों के निशाने पर भी रहे. पैसे, बॉलीवुड और देश की ताकतवर हस्तियों तक अपनी पहुंच के लिए मशहूर अमर सिंह सपा की ओर से कई बार राज्‍यसभा सदस्‍य रहे. वे संसद की कई समितियों के सदस्‍य भी रहे.

अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन से मांगी माफी, बोले- मैं जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा हूं, ऐसे में…

अमर सिंह के साथ विवाद हमेशा जुड़े रहे. इसमें यूपीए सरकार के पक्ष में वोट देने के लिए तीन बीजेपी सांसदों को कथित तौर पर रिश्‍वत की पेशकश करने का मामला प्रमुख है. उनके खिलाफ एक ऑडियो टेप भी आया था जिसमें दावा किया गया था कि उसमें अमर सिंह की आवाज है. अमर सिंह एक समय बॉलीवुड के सुपर स्‍टार अमिताभ बच्‍चन के भी खास सहयोगी रहे लेकिन वक्‍त के साथ उनके संबंधों में खटास आती गई.

VIDEO : अमर सिंह ने कहा, अमिताभ बच्चन पर मैंने कोई एहसान नहीं किया

Source link

ताज़ा खबर

‘इश्कबाज’ के एक्टर से किन्नर ने मांगे पैसे तो गाड़ी में बैठे-बैठे ही डांस करने लगे नकुल, बोले- आप दो…Video

Published

on

By

'इश्कबाज' के एक्टर से किन्नर ने मांगे पैसे तो गाड़ी में बैठे-बैठे ही डांस करने लगे नकुल, बोले- आप दो...Video

नकुल मेहता (Nakuul Mehta) का वीडियो हुआ वयारल

खास बातें

  • नकुल मेहता का वीडियो हुआ वायरल
  • किन्नर ने एक्टर से मांगे पैसे
  • गाड़ी में मौजूद नकुल करने लगे डांस

नई दिल्ली:

टेलीविजन के पॉपुलर शो ‘इश्कबाज (Ishqbaaz)’ के एक्टर नकुल मेहता (Nakuul Mehta) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं. वह अकसर अपने फोटो और वीडियो फैन्स के साथ इंस्टाग्राम पर साझा करते नजर आ जाते हैं. हाल ही में नकुल मेहता ने एक वीडियो शेयर किया है, जो इंटरनेट पर खूब सुर्खियां बटोर रहा है. दरअसल, इस वीडियो में नकुल मेहता (Nakuul Mehta Video) से जब एक किन्नर चाय के लिए पैसे मांगती है, तो अपनी गाड़ी में मौजूद एक्टर ‘दिल धड़कने दो’ फिल्म के गाने ‘छन-छन बोले चूड़ियां’ पर डांस करना शुरू कर देते हैं. नकुल मेहता का यह वीडियो खूब वायरल हो रहा है और लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

इस वीडियो में नकुल मेहता (Nakuul Mehta) डांस करने के बाद, गाड़ी के पास खड़ी किन्नर से ही चाय पिलाने के लिए बोल देते हैं. एक्टर वीडियो में कह रहे हैं, “मैंने आपके लिए डांस किया, अब आप मुझे एक चाय पिलाओ.” वीडियो में देखा जा सकता है कि नकुल किन्नर के साथ किस तरह से मस्ती कर रहे हैं. एक्टर के इस वीडियो पर उनके कई दोस्तों ने कमेंट किया है. एक्टर सुयश राय ने कमेंट करते हुए बताया कि उस किन्नर का नाम सुनीता है. 

सुयश राय (Suyash Rai) ने नकुल मेहता (Nakuul Mehta) के पोस्ट पर कमेंट करते हुए कहा, “यह सुनीता है, ओबेरॉय मॉल के सिग्नल पर खड़ी होती है. यह बहुत प्यारी है. मैं इसे पिछले 6 सालों से जानता हूं. भगवान उस पर अपनी कृपा रखे.” वहीं, बता दें, एक्टर नकुल मेहता को सीरियल ‘इश्कबाज’ से काफी लोकप्रियता मिली थी. इसके अलावा वह ‘प्यार का दर्द है मीठा-मीठा प्यारा-प्यारा’ में भी मुख्य भूमिका निभाते नजर आए थे. 

 



Source link

Continue Reading

ताज़ा खबर

Ice Cube Masks For Skin: अपनी त्वचा को रिफ्रेश करने के लिए इस्तेमाल करें ये आसान DIY आइसक्यूब मास्क

Published

on

By

Ice Cube Masks For Skin: अपनी त्वचा को रिफ्रेश करने के लिए इस्तेमाल करें ये आसान DIY आइसक्यूब मास्क

इन आसान तरीकों से आप भी बना सकते हैं DIY Ice Cube Mask.

नई दिल्ली:

DIY Ice Cube Mask for Skin: तपती गर्मी और अधिक तापमान होने की वजह से गर्मियों का मौसम त्वचा के लिए थोड़ा मुश्किल होता है. इसके ऊपर से धूल मिट्टी की वजह से त्वचा पर मुंहासे और रैशेज हो जाते हैं, जिनसे डील कर पाना और भी मुश्किल हो जाता है. ऐसे में जरूरी है कि आप भी अपनी त्वचा को थोड़ा ब्रेक दें और फ्रेशिंग स्किन केयर की ओर ध्यान दें और वो भी आसान DIY आइस क्यूब मास्क (Ice Cube Masks for Skin in Hindi) की मदद से. इससे आपके चेहरे को ठंक मिलेगी और आपका चेहरा रिफ्रेश महसूस करेगा. 

नींबू और पूदीने के आइस क्यूब्स (Lemon Mint Ice Cube Mask)

नींबू एक नेचुरल एंटीऑक्सिडेंट है, जो त्वचा से तेलियपन को कम करता है और स्किन को डैमेज होने से बचाता है. वहीं पुदीने में एंटीबैक्टीरियल प्रोपर्टीज होती हैं, जो मुंहासों को दूर करती हैं और सेंसिटिव त्वचा के लिए फायदेमंद है. 

ऐसे बनाएं मास्क

– नींबू के छोटे छोटे टुकड़े कर लें.

– 10-12 पुदीने की पत्तियां लें और अच्छे से धो लें.

– अब बर्फ की ट्रे में पानी भर लें.

– अब आइस ट्रे में पुदीने की पत्तियों को डालें और नींबू का रस डाल दें.

– अब इसे फ्रिज में जमने के लिए रख दें और बस ये तैयार है.

– बर्फ की क्यूब को बाहर निकालें और अपने चेहरे पर लगाएं.

– सर्कुलर मोशन में बर्फ की टुकड़ी को 7 से 8 मिनट के लिए त्वचा पर घुमाएं.

इससे आपकी त्वचा पर जलन की समस्या कम होगी और साथ ही आपकी त्वचा को ठंडक भी मिलेगी. 

स्ट्रोबेरी और शहद की आइस क्यूब (Strawberry Honey Ice Cube Mask)

स्ट्रोबेरी में बहुत से फायदे होते हैं और इस वजह से ये आपकी स्किन की प्रोबल्स को दूर करने के लिए एक दम परफ्केट है. पफी आइज से छुटकारा दिलाने के अलावा स्ट्रोबेरी आपके चेहरे को भी टोन करती है. आप चाहें तो इसमें शहद भी मिला सकते हैं, जिससे आपके मुंहासें की समस्या कम होगी. 

ऐसे बनाएं मास्क

– 2-3 स्ट्रोबेरी के बड़े-बड़े टुकड़े कर लें.

– स्ट्रोबेरी को काटते वक्त इस बात ध्यान रखें कि आप उसकी शेप खराब न करें.

– अब अपनी बर्फ की ट्रे में पानी डालें और उसमें स्ट्रोबेरी डालें.

– सभी स्क्वायर में शहद की भी 2-3 बूंदे डालें.

– अब ट्रे को जमने के लिए फ्रीजर में रख दें.

– एक बार बर्फ जमने के बाद क्यूब को अपने चेहरे पर रब करें. 

– अपने पूरे चेहरे पर क्यूब को सर्कुलर मोशन में रब करें.

ध्यान रखें कि आप अपनी त्वचा को बर्फ से बहुत ज्यादा न रगड़ें, क्योंकि इससे आपकी त्वचा को नुकसान भी पहुंच सकता है. कम से कम 2 मिनट के लिए रब करें और फिर 1 मिनट का ब्रेक दें. इस प्रोसेस को बर्फ के पिघलने से पहले 3 से 4 बार दोहराएं.

फूल और ग्लिसरिन के आइस क्यूब (Flower and Glycerin Ice Cube Mask)

floral ice cubes

फेसवॉश से लेकर लोशन तर फूलों का इस्तेमाल कई ब्यूटी प्रोडक्ट्स में किया जाता है. ये फूल केवल त्वचा के लिए फायदेमंद ही नहीं होते बल्कि अपनी मीठी खुशबू भी छोड़ जाते हैं. आप इस आइस क्यूब मास्क को बनाने के लिए किसी भी फूल की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं. जैसे गुलाब, हिबिस्कस, गेंदा आदि.

ऐसे बनाएं फेस मास्क

– अपने पसंदीदा फूल की कुछ पत्तियों को लें और उनके दो भाग कर लें.

– अब आइस ट्रे में पानी डालें और उसमें फूल की पत्तियां डालें.

– इसके साथ ही सभी में 2-3 बूंद ग्लिसरिन डाल दें.

– इसे कम से कम 4 से 6 घंटों के लिए जमने दें.

ये फूल के आइस क्यूब न केवल आपको स्टनिंग स्किन देंगे, बल्कि आपकी त्वचा को अधिकतम सीमा तक आराम देने में भी मदद करेंगे.

Source link

Continue Reading

ताज़ा खबर

पंजाब शराब कांड : सनी देओल ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की

Published

on

By

पंजाब शराब कांड : सनी देओल ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की

सनी देओल (फाइल फोटो)

चंडीगढ़:

गुरदासपुर से भाजपा सांसद और अभिनेता सनी देओल ने सोमवार को जहरीली शराब त्रासदी मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को लिखे पत्र में देओल ने कहा कि देश का प्रत्येक व्यक्ति इस त्रासदी को लेकर उदास एवं चिंतित है. मीडिया में आई खबरों का हवाला देते हुए उन्होंने दावा किया कि त्रासदी का माफिया लंबे समय से बटाला में अवैध कारोबार कर रहा है. देओल ने कहा, ” यह मानना काफी मुश्किल है कि बिना जिला प्रशासन की जानकारी अथवा ताकतवर नेताओं के संरक्षण के बिना संचालन किया जा रहा था.” 

यह भी पढ़ें

गौरतलब है कि पंजाब में 100 से अधिक लोगों की जान ले चुकी जहरीली शराब त्रासदी के सिलसिले में पुलिस ने दो उद्योगपतियों सहित 12 और लोगों को गिरफ्तार किया है. लुधियाना के पेंट कारोबारी राजेश जोशी की तलाश जारी है. जोशी ने ही शुरुआत में शराब के तीन ड्रम की आपूर्ति की थी, जिसे पीकर लोगों की मौत का यह त्रासद सिलसिला शुरू हुआ. एक बयान के अनुसार, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता को निर्देश दिया है कि वह इस मामले से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को गिरफ्तार करें और सुनिश्चित करें कि उन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिले. सिंह ने कहा, ‘‘किसी को बख्शा नहीं जाना चाहिए.” पुलिस ने इस सिलसिले में अभी तक राज्य में अवैध शराब का धंधा करने वाले पांच माफिया सहित 37 लोगों को गिरफ्तार किया है.

पंजाब में ‘कैप्टन’ की बढ़ी मुश्किल, कांग्रेस के दो सांसदों ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर साधा निशाना

पुलिस प्रमुख ने बताया कि जोशी सहित आठ अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के भी प्रयास जारी हैं. उन सभी की पहचान हो गई है. पिछले 24 घंटे में हुई गिरफ्तारियों में मोगा जिले से रविन्दर सिंह आनंद भी शामिल है. पुलिस प्रमुख ने बताया कि वैसे तो आनंद का जैक बनाने का कारोबार है और उसने हाल ही में सेनिटाइजर बनाना भी शुरू किया है. आनंद ने जोशी से 11,000 रुपये प्रति ड्रम के हिसाब से 200-200 लीटर क्षमता वाले तीन ड्रम जहरीली शराब खरीदी थी. गुप्ता ने बताया कि आनंद के हाथ से ये तीनों ड्रम अवतार सिंह के पास पहुंचे.

उसने इन्हें 28,000 रुपये प्रति ड्रम के हिसाब से तरनतारन जिले के रहने वाले हरजीत सिंह और उसके दो बेटों को बेच दिया. तीनों ने अवतार को 50,000 रुपये दिए और बाकि पैसे अभी बकाया हैं. अधिकारी ने बताया, बाप-बेटे ने बाद में बताया कि उन्होंने इस जहरीली शराब की 42 बोतलें 6,000 रुपये में गोबिन्दर सिंह को बेच दी. उन्होंने बताया कि गोबिन्दर ने सभी बोतलों में 10-10 प्रतिशत पानी मिलाकर बाकी शराब से उसे 46 बोतलें बना दीं और उसे बलविन्दर कौर के बेटों को 23-23 की दो खेप में 28 और 29 जुलाई को बेच दिया. गुप्ता ने बताया कि इस मामले में सबसे पहले गिरफ्तार आरोपी कौर ही है. कौर ने उन बोतलों में 50 प्रतिशत पानी मिलाया और उसे 100 रुपये प्रति बोतल के हिसाब से बेच दिया. रविन्दर सिंह ने बताया है कि वह मोगा के एक पेंट दुकानदार अश्वनी बजाज का सहयोगी है, उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया है. गुप्ता ने बताया कि रविन्दर से पूछताछ में जोशी का नाम बाहर आया. वह फिलहाल पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है.


 

Source link

Continue Reading

Trending