Connect with us

मनोरंजन

SSR Death Case: मुंबई में बिहार पुलिस को 3 KM चलना पड़ा पैदल, अंकिता लोखंडे ने दी अपनी जगुआर

Published

on

SSR Death Case: मुंबई में बिहार पुलिस को 3 KM चलना पड़ा पैदल, अंकिता लोखंडे ने दी अपनी जगुआर

अंकिता लोखंडे ने बिहार पुलिस को अपनी कार से डेस्टिनेशन पर पहुंचवाया.

SSR Death Case: आरोप है कि मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के असहयोगात्मक रवैये के कारण पटना पुलिस की टीम को भारी परेशानी हो रही है.

पटना. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में हो रहे नये खुलासों के बीच बिहार सरकार के एडवोकेट जनरल ललित किशोर (Lalit Kishore, Advocate Gen, Bihar Govt.) ने एक बयान जारी कर कहा है कि जब एक राज्य से दूसरे में पुलिस जांच करने जाती है तो राज्य सरकार सहयोग करती है. लेकिन, दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ऐसा नहीं कर रही है. बिहार सरकार के आरोपों में तब और दम नजर आने लगा जब यह बात सामने आई कि मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस को गाड़ी तक मुहैया नहीं करवाई और उसे अभिनेत्री अंकिता लोखंडे (Ankita lokhande) से पूछताछ के लिए जाने में गुरुवार को 3 किलोमीटर पैदल चलना पड़ा.

दरअसल, आरोप यह है कि पुलिस के असहयोगात्मक रवैये के कारण मुंबई में पटना पुलिस की टीम को भारी परेशानी हो रही है. कोरोना वायरस की वजह से मुंबई की सड़कों पर ऑटो और टैक्सी की कमी है. गुरुवार को पटना पुलिस की टीम को मलाड स्थित सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्ल फ्रेंड अंकिता लोखंडे के घर जाना था. टीम जिस जगह पर थी, वहां से मलाड की दूरी काफी थी. पटना पुलिस के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, ऐसे में करीब 3 किलोमीटर की दूरी पटना पुलिस के ऑफिसर्स को पैदल चलकर तय करनी पड़ी. इसके बाद उन्हें ऑटो मिला और फिर वो अंकिता लोखंडे के घर पहुंचे. करीब एक घंटे से अधिक समय तक टीम वहां रही. अंकिता से पूछताछ की फिर वापसी के लिए अंकिता लोखंडे ने अपनी जगुआर कार पुलिस ऑफिसर्स को उपलब्ध कराया और उन्हें उनके डेस्टिनेशन तक पहुंचवाया. ऐसा मीडिया की भीड़ और उनके सवालों से बचने के लिए किया गया था.

अंकिता ने 30 सवालों के दिए जवाबसूत्रों के अनुसार, पूछताछ के दौरान अंकिता ने पटना पुलिस की टीम की तरफ से पूछे गए करीब 30 सवालों के जवाब दिए और कई अहम जानकारी साझा की. उन्होंने पुलिस को बताया कि सुशांत पिछले चार महीने से बेहद परेशान थे. रिया चक्रवर्ती की मर्जी के बिना कुछ भी नहीं कर पा रहे थे. लेकिन वो डिप्रेशन में रहने वाले व्यक्ति नहीं थे. रिया के प्रेशर और लगातार ब्लैकमेल के कारण बेहद परेशान हो चुके थे. दोस्त, घर वाले या किसी भी जानने वालों से अधिक समय तक रिया चक्रवर्ती बात नहीं करने देती थी. कई तरह से सुशांत पर दबाव बना रही थी.

‘कुछ महीने पहले पार्टी में हुई थी मुलाकात’
पटना पुलिस के सामने अंकिता लोखंडे ने कहा कि सुशांत को वो बहुत अच्छे से जानती थीं. वह सुसाइड करने वालो में से नहीं था. रिया सुशांत के सारे कम्पनी को अपने परिवार के इर्द-गिर्द ही रखना चाहती थी. अंकिता ने बताया की मौत से कुछ महीने पहले एक पार्टी में हम लोग मिले थे. बातचीत शुरू ही हुई थी. कुछ बातें सुशांत ने बताई ही थी कि तभी रिया आई और सुशांत को अपने साथ ले गई. सूत्रों की मानें तो अंकिता ने पुलिस टीम को आगे भी इस केस के इन्वेस्टिगेशन में मदद करने की बात कही है. इसलिए उन्‍होंने अपना पर्सनल मोबाइल नम्बर भी शेयर किया है.



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मनोरंजन

सुशांत केस: अब कांग्रेस बोली- संविधान दोबारा पढ़ें नीतीश कुमार

Published

on

By

सुशांत केस: अब कांग्रेस बोली- संविधान दोबारा पढ़ें नीतीश कुमार

सुशांत सिंह राजपूत (फाइल फोटो)

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) आत्महत्या मामले में महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra) द्वारा सहयोग नहीं किए जाने के बिहार सरकार (Bihar) के आरोप पर पलटवार करते हुए कांग्रेस (Congress) के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बिहार दखलअंदाजी नहीं कर सकती.

जैसलमेर. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) आत्महत्या मामले में महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra) द्वारा सहयोग नहीं किए जाने के बिहार सरकार (Bihar) के आरोप पर पलटवार करते हुए कांग्रेस (Congress) के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मंगलवार को कहा कि बिहार सरकार महाराष्ट्र के अधिकार क्षेत्र में दखलअंदाजी नहीं कर सकती.

इस बारे में पूछे गए एक सवाल पर सुरजेवाला ने यहां कहा, ‘इस देश का संविधान और कानून यह कहता है किसी प्रदेश के अंदर कानून व्यवस्था की जिम्मेवारी प्रदेश की सरकार की है. महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था की पूरी जिम्मेवारी महाराष्ट्र सरकार की है.’

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को संविधान दुबारा पढ़ें
सूरजेवाला ने कहा, ‘मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को संविधान दुबारा पढ़ना चाहिए. नीतीश कुमार या बिहार की सरकार जबरन पुलिस भेज कर महाराष्ट्र के अधिकार क्षेत्र यानी परिधि के अंदर दखलअंदाजी नहीं कर सकते क्योंकि अगर एक प्रांत की पुलिस दूसरे प्रांत के अंदर जाकर जांच करेंगी तो फिर अराजकता फैल जाएगी.’सुरजेवाला ने कहा कि ऐसे मामलों में दूसरे राज्य की पुलिस से संपर्क कर सहयोग लेना चाहिए. सुरजेवाला ने राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल एसओजी की हरियाणा में हालिया कार्रवाई का जिक्र करते हुए कहा, ‘ राजस्थान की एसओजी जब हरियाणा गई तो उसने हरियाणा पुलिस से संपर्क किया. पुलिस की जिम्मेदारी है कि वह उस सम्बद्ध प्रदेश की पुलिस से संपर्क करे, उनका सहयोग ले. यह नहीं कि कानून और संविधान की धज्जियां उड़ा दे.’



Source link

Continue Reading

मनोरंजन

जब अरबाज ने मलाइका को लेकर किया था ये खुलासा, इसलिए रिश्ते तोड़ने पर हुए थे मजबूर

Published

on

By

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर, डायरेक्टर और फिल्म प्रोड्यूसर अरबाज खान (Arbaaz Khan) का आज जन्मदिन है और वो 53 साल के हो गए हैं. अरबाज बतौर एक्टर कई फिल्मों में नजर आ चुके हैं. अरबाज खान ने साल 1996 में फिल्म दरार से बॉलीवुड में कदम रखा था, जिसमें उनके साथ एक्ट्रेस जूही चावला थीं. इस फिल्म के लिए अरबाज खान को फिल्मफेयर बेस्ट विलेन अवॉर्ड दिया गया था. आइए बर्थडे पर जानते हैं उनकी लाइफ से जुड़ी कुछ खास बातें.

वैसे तो अरबाज की लाइफ में कई ऐसी घटनाएं हुई, लेकिन सबसे बड़ी बात जो थी वो उनकी 18 साल पुरानी शादी का टूटना बनी. अरबाज खान ने साल 1998 में एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा से शादी की थी. साल 2002 में दोनों के बेटे अरहान का जन्म हुआ, लेकिन शादी के करीब 18 साल बाद 28 मार्च 2016 को उन्होंने फैंस को यह जानकारी दी कि वो अलग हो रहे हैं. असके बाद 11 मई 2017 को दोनों का तलाक हो गया.

मलाइका ने बताई थी तलाक की वजह
करीना कपूर के चैट शो में मलाइका ने बताया था तलाक की बात से खान परिवार, अरबाज और उन्हें किन तकलीफों का सामना करना पड़ा. मलाइका ने कहा था- आप किसी रिश्ते को पीछे छोड़ कर आगे बढ़ते हैं तो अक्सर किसी न किसी को जिम्मेदार ठहराते हैं. अक्सर कोई आप पर ही ऊंगली उठाते रहे, मुझे लगता है ये इंसानी फितरत है जिसे बदला नही जा सकता. हम इस रिलेशन से खुश नहीं थे. हम एक-दूसरे को खुश नहीं रख पा रहे थे जिसकी वजह से आसपास के लोगों पर भी इसका बुरा असर पड़ रहा था.

तलाक से एक रात पहले पूछा था ये सवाल
मलाइका ने शो में बताया था कि तलाक से एक रात पहले परिवार ने उनसे क्या सवाल पूछा था, ‘क्या तुम इस बारे में श्योर हो? क्या तुम्हें अपने फैसले पर 100 प्रतिशत यकीन है?’ मलाइका ने कहा था कि उनसे यही बात पूछी जाती थी. एक्ट्रेस ने कहा कि जो लोग आपकी चिंता करते हैं वो ये बात पूछते ही हैं.

अरबाज ने इंटरव्यू में  किया था चौंकाने वाले खुलासा
अरबाज ने मलाइका के साथ तलाक पर कहा था- चीजें ऐसे मोड़ पर आ गई थी कि इसके लिए जितनी जल्दी हो उतनी जल्दी रास्ता निकालना था. हालांकि, मैंने बिगड़ी चीजों को संभालने की पूरी कोशिश की लेकिन मैं संभाल नहीं पाया. मेरा बेटा उस वक्त 12 साल का था और उसे चीजों की समझ होने लगी थी. उसे पता था कि क्या हो रहा है. उसे हमें बहुत कुछ समझाना नहीं पड़ा था. अरबाज ने कहा था- मैं हमेशा अपने बेटे के साथ हूं. मलाइका को मेरे बेटे की कस्टडी मिली थी और मैं इसके लिए लड़ना नहीं चाहता क्योंकि मुझे लगता है कि वो बहुत छोटा था और उसे मां की जरूरत थी.

अरबाज ने मलाइका को तलाके के बाद दिए थे 15 करोड़ रुपए
मलाइका ने तलाक के बदले अरबाज से एलुमनी अमाउंट के तौर पर 10 करोड़ रुपए मांगे थे. रिपोर्ट की मानें तो मलाइका 10 करोड़ रुपए से कम पर समझौता करने को तैयार नहीं थी. वहीं, अरबाज ने मलाइका को एलुमनी अमाउंट के तौर 15 करोड़ रुपए दिए थे.

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें



Source link

Continue Reading

मनोरंजन

सुशांत सिंह राजपूत के पिता का वीडियो हुआ वायरल, बोले- 25 फरवरी को बांद्रा पुलिस को बताया था वो खतरे में है…

Published

on

By

सुशांत सिंह राजपूत के पिता का वीडियो हुआ वायरल, बोले- 25 फरवरी को बांद्रा पुलिस को बताया था वो खतरे में है...

सुशांत सिंह राजपूत के पिता का वीडियो आया सामने

नई दिल्ली:

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के पिता का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह बता रहे हैं कि उन्होंने फरवरी में ही बांद्रा पुलिस को सूचित किया था कि उनके बेटे की जान को खतरा है. इस वीडियो को सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के पिता के.के. सिंह ने खुद बनाया है और इसे समाचार एजेंसी एएनआई ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है. इस तरह वह इस वीडियो में बता रहे हैं कि उन्होंने पुलिस को सूचित किया था, और अब 40 दिन बाद आखिर पटना में FIR क्यों दर्ज कराई है.

यह भी पढ़ें

इस वीडियो में सुशांत सिंह राजपूत के पिता कह रहे हैं, ’25 फरवरी, मैंने बांद्रा पुलिस को सूचना दी थी कि वह खतरे में है. उसका निधन 14 जून को हुआ और मैंने उनसे कहा कि 25 फरवरी की शिकायत में जिन लोगों के नाम थे उनके खिलाफ कार्यवाही करें. उसकी मौत के 40 दिन बाद तक कोई कार्यवाही नहीं हुई. तो मैंने पटना में FIR फाइल कर दी.’



Source link

Continue Reading

Trending